Friday, May 17, 2024

Latest Posts

India Chief Selector: अजीत अगरकर बने भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य चनयकर्ता, चेतन शर्मा की जगह मिली जिम्मेदारी

नईदिल्ली I अजीत अगरकर भारतीय क्रिकेट टीम के नए मुख्य चनयकर्ता चुने गए हैं। वह चेतन शर्मा की जगह यह जिम्मेदारी संभालेंगे। अजीत अगरकर को मुख्य चयनकर्ता बनाए जाने की अटकलें काफी पहले से लगाई जा रही थीं और अब इन पर मुहर लग गई है। भारतीय क्रिकेट चयन समिति के पूर्व अध्यक्ष चेतन शर्मा ने एक स्टिंग ऑपरेशन में फंसने के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद ये यह पद खाली था। अब अजीत अगरकर को यह जिम्मेदारी दी गई है। अजीत अगरकर ने कुछ दिन पहले ही आईपीएल टीम दिल्ली कैपिटल्स में अपने पद से इस्तीफा दिया था। इसके बाद से ही यह लगभग तय हो गया था कि वह भारतीय क्रिकेट टीम के नए मुख्य चयनकर्ता होंगे।

22 जून के बीसीसीआई ने एक विज्ञापन के जरिये चयन समिति में एक खाली पद के लिए आवेदन मांगे थे। इस समय अजीत अगरकर ने आवेदन किया था और तभी से वह इस पद को भरने के लिए प्रबल दावेदार माने जा रहे थे। अजीत के चुनाव के बाद भारतीय चयन समिति में वेस्ट जोन से दो सदस्य हो चुके हैं। सलील अंकोला पहले से ही वेस्ट जोन के चयनकर्ता हैं।

सुश्री सुलक्षणा नाइक, अशोक मल्होत्रा और जतिन परांजपे की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) ने अजीत के नाम पर मुहर लगाई। भारत के पूर्व ऑलराउंडर अजीत अगरकर ने 110 प्रथम श्रेणी, 270 लिस्ट ए और 62 टी20 मैच खेले हैं। वहीं, देश के लिए उन्होंने 26 टेस्ट, 191 वनडे और चार टी20 मैच खेले। वह 2007 में पहला टी20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। उनके नाम अभी भी वनडे में भारत के लिए सबसे तेज अर्शधतक लगाने का रिकॉर्ड दर्ज है। यह अर्धशतक उन्होंने 21 गेंद में साल 2000 में जिम्बाब्वे के खिलाफ बनाया था। उन्होंने सिर्फ 23 वनडे मैच में 50 विकेट हासिल किए थे और लगभग एक दशक तक सबसे कम मैचों में यह उपलब्धि हासिल करने वाले गेंदबाज रहे थे।

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास के बाद, उन्हें सीनियर मुंबई टीम का मुख्य चयनकर्ता नियुक्त किया गया और उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के साथ कोचिंग की जिम्मेदारी निभाई। क्रिकेट सलाहकार समिति ने वरिष्ठता (टेस्ट मैचों की कुल संख्या) के आधार पर पुरुष चयन समिति के अध्यक्ष की भूमिका के लिए अगरकर के नाम की सिफारिश की।

बीसीसीआई को सलाना वेतन में करनी होगी बढ़ोतरी
अगरकर का नाम दौड़ में होने से बीसीसीआई को चयन समिति के प्रमुख का सालाना वेतन एक करोड़ से बढ़ाना होगा जबकि बाकी सदस्यों का वेतन भी 90 लाख से अधिक करना होगा। दिल्ली कैपिटल्स के सहायक कोच और कमेंटेटर अगरकर मुख्य चयनकर्ता के सालाना पैकेज से अधिक कमाते हैं और यही कारण है कि बीसीसीआई को मौजूदा वेतनमान की समीक्षा करनी पड़ेगी।

अगरकर 2021 में क्यों नहीं बने थे मुख्य चयनकर्ता?
दिवंगत रमाकांत आचरेकर के शिष्य रहे 45 वर्ष के अगरकर 191 वनडे, 26 टेस्ट और चार टी-20 मैच खेल चुके हैं। माना जाता है कि 2021 में मुंबई क्रिकेट संघ को अगरकर की दावेदारी से समस्या थी और यही वजह है कि उन्हें मुख्य चयनकर्ता के रूप में नहीं चुना गया था। इसके अलावा उन्हें चुनने पर चेतन शर्मा अध्यक्ष नहीं बनते जिन्हें बोर्ड के एकवर्ग का समर्थन हासिल था।

Latest Posts

Don't Miss